और एक मुस्कान

रात कभी पूर्ण नहीं होती ,

हमेशा होती है चूँकि मै कहता हूँ ,

चूँकि मैं आश्वासन देता हूँ ,

दुःख के अंत में एक खुली हुई खिड़की ,

हमेशा होता है एक स्वप्न जो जागता रहता है ,

पूरी करने के लिए इच्छा , तृप्त करने की क्षुधा ,

एक उदार मन ,

एक बढ़ा हुआ हाथ , एक खुला हुआ हाथ ,

ध्यान देती आँखे ,

जीवन बाँटने के लिए एक जीवन….

Advertisements

4 comments

Pour your thoughts here!!

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / Change )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / Change )

Connecting to %s